Breaking News

वाह वाही लूटने के लिए संगम विहार में चल रहे शासकीय कार्य वैक्सीनेशन कैंप पर आम आदमी पार्टी के नेता के संरक्षण में गुंडागर्दी।

पार्टी की आपसी फूट में पहलवानी दिखा रहे रंगदार, गाली गलौज, पत्थरबाजी करते हुए सारा मामला कैमरे में हुआ कैद।

पंकज गुप्ता आम आदमी पार्टी का नेता है या क्षेत्र का गुंडा?, पुलिस की पहुंच से दूर रंगदार, जनता भगवान भरोसे।

सिविल डिफेंस की महिला पुलिसकर्मी ने बताया कि सब कुछ बढ़िया चल रहा था फिर किसी पार्टी के असामाजिक तत्व द्वारा पत्थरबाजी क्यों कि गयी?

नई दिल्ली:- (बुलंद नारी, संवाददाता) पूरे भारतवर्ष में केंद्र और प्रदेश सरकार कोरोना की तीसरी लहर को रोकने के लिए हर संभव प्रयास कर रही है जगह-जगह वैक्सीनेशन कैंप लगाकर लोगों को टीकाकरण किया जा रहा है। ग्रामीण क्षेत्रों में तो राजस्व,  आंगनवाड़ी, आशा कार्यकर्ता तथा अन्य विभाग के समस्त कार्यकर्ता घरों घर टीकाकरण कर रहे हैं।

       

ऐसे ही संगम विहार में भी दिल्ली सरकार द्वारा क्षेत्रवासियों के अनुरोध पर जे फर्स्ट के बारात घर में वैक्सीनेशन कैंप लगाया गया था, जिसमें समस्त क्षेत्रवासियों को टीकाकरण के लिए बुलाया गया परंतु उस कैंप को निजी कैंप बनाने में लगे आम आदमी पार्टी के नेता खुद करवा रहे हैं गुंडागर्दी। मामला है संगम विहार के जे-फर्स्ट का जहां बारात घर में वैक्सीनेशन कैंप लगाया गया था जिसमें पंकज गुप्ता के गुर्गे हाथापाई पर उतर गए औरत और वैक्सीन लगाने आए लोगों तथा पत्रकार व पुलिसकर्मियों पर पत्थरबाजी की।

बीते दिन संगम विहार के विधायक दिनेश मोहनिया और वार्ड अध्यक्ष तरुण राज प्रजापति द्वारा दिल्ली प्रदेश के अंतर्गत चलाए जा रहे कोविड-19 वैक्सीनेशन के लिए जे-फर्स्ट बारात घर में कैंप लगाया गया था। लेकिन क्षेत्र के छूटभैया पहलवान गुंडागर्दी पर उतर आए

वार्ड अध्यक्ष तरुण राज प्रजापति ने बताया कि,- संगम बिहार जे-फर्स्ट क्षेत्र में कई बुजुर्ग एवं अन्य व्यक्ति टीकाकरण से छूटे हुए थे जिन्हें वैक्सीनेशन लगाने के उद्देश्य से हमने क्षेत्र विधायक दिनेश मोहनिया से आग्रह किया, जिन्होंने हमारा निवेदन स्वीकार करते हुए प्रदेश स्तर पर चलाए जा रहे वैक्सीनेशन अभियान को शत प्रतिशत पूरा करने के उद्देश्य से जे फर्स्ट में बारात घर पर विधिवत तरीके से वैक्सीनेशन कैंप लगाया गया, सब कुछ अच्छा चल रहा था लेकिन उक्त मौके पर क्षेत्र के आम आदमी पार्टी के नेता पंकज गुप्ता के गुर्गे कुलदीप तथा अन्य लोगों द्वारा वैक्सीनेशन कार्यकर्ताओं से बदतमीजी करना शुरू कर दी, जहां सिविल डिफेंस के पुलिसकर्मी तथा अन्य पत्रकार एवं समाजसेवी मौजूद थे। तथा वहां लगे हुए पोस्टर भी फाड़ दिए गए और खुद का बैनर लगाने लगे। जब उन्हें इस गुंडागर्दी के लिए मना किया गया तो वहां गेट पर खड़े होकर गाली गलौज करने लगे ओर वार्ड अध्यक्ष, अन्य लोगों पर पत्थरबाजी भी की, साथ ही उन्होंने पत्रकारों को भी मोके का मामला शूट करने के लिए अप शब्दों का प्रयोग किया। तरुण ने मौके पर हंड्रेड डायल को सूचना दी, उन्होंने बताया कि हम समाज में सेवा की दृष्टि से वैक्सिनेशन का कार्य करवा रहे थे, जो कि यहां पर 1 हजार वैक्सिनेशन लगना थी परंतु अपनी राजनीति चमकाने के उद्देश्य से यह लोग कैम्प में घुसकर गुंडागर्दी करने लगे हैं और शासकीय कार्य में बाधा डाली। तरुण ने बताया कि वह लिखित में पुलिस स्टेशन जाकर इस तरह की हो रही गुंडागर्दी के खिलाफ आवेदन भी देंगे और यहां कैंप में उपस्थित लोगों ने जो वीडियो बनाए हैं उसके आधार पर आरोपियों की पहचान कर उन्हे उचित दंड दिलाने का भी प्रयास किया जाएगा।

सिविल डिफेंस के महिला पुलिसकर्मी ने बताया- वैक्सीनेशन कैंप का आयोजन किया गया था जिसमें हमारी ड्यूटी भी लगाई गई थी सब कुछ बढ़िया चल रहा था उम्रदराज लोग वैक्सीन लगवा रहे थे लेकिन कुछ पार्टी के लोगों द्वारा विवाद शुरू कर दिया गया और गेट पर खड़े होकर पत्थरबाजी भी की जो पत्थर हमें भी लगे तथा उपस्थित लोगों को भी लगे। महिला पुलिसकर्मी ने बताया कि जिन लोगों ने कार्यक्रम का आयोजन किया उनके पोस्टर यहां लगे हुए थे लेकिन कुछ असामाजिक तत्वों द्वारा उसे फाड़ कर अन्य लोगो के पोस्टर लगाना चाहते थे उसी बात पर विवाद हुआ और उन्होंने पत्थरबाजी शुरू कर दी।

मौके पर उपस्थित समाजसेवियों ने बताया- सब कुछ बढ़िया चल रहा था वैक्सीनेशन के लिए वार्ड अध्यक्ष तरुण राज प्रजापति को बोल कर दो दिवसीय वैक्सीन कैंप लगाया गया था जिससे कुछ असामाजिक तत्वों ने पूर्ण नहीं होने दिया और वाह वाही लूटने के लिए अपने नेता का पोस्टर लगाना चाह रहे थे, जिस बात पर हंगामा हुआ और उन्होंने पत्थरबाजी शुरू कर दी बताया जा रहा है कि वह पोस्टर पंकज गुप्ता का था जो आम आदमी के नेता होने के साथ-साथ क्षेत्र में गुंडागर्दी करने से बाज नहीं आ रहे हैं और तो और वह नाबालिग लड़कों से गुंडागर्दी करवा रहे हैं ताकि पुलिस कार्रवाई में वह नाबालिक बनकर छूट सके।

पत्रकारों को भी गाली गलौज- हम आपको बता दें कि क्षेत्र में पंकज गुप्ता आम आदमी पार्टी के नेता अपनी राजनीति चमकाने के लिए गुंडागर्दी पर उतर आए और अपनी ही पार्टी के लोगों पर पत्थरबाजी करवा दी तथा उनके पोस्टर फाड़कर खुद के बैनर लगवाने लगे। जब यह मामला होते देख पत्रकारों ने वीडियो शूट करना शुरू किया तो उन्हीं रंगदार गुंडों ने पत्रकारों को भी गाली गलौज की और बाहर निकल कर बताने की भी धमकी दी। एक तो पुलिस मौके पर पहुंच नहीं पाती, दूसरा गुंडागर्दी इतनी चरम पर है कि यह रंगदार लोग कहीं भी जाकर किसी के भी साथ बदतमीजी करने से बाज नहीं आ रहे। ऐसे में दिल्ली पुलिस को चाहिए कि वह स्टिंग ऑपरेशन करके ऐसे गुंडों का तथा उन्हें संरक्षण देने वाले मुखिया का तत्काल इलाज करें एवं उन पर उचित कार्रवाई करते हुए जेल यात्रा भी कराएं ताकि भविष्य में कोई गुंडा शासकीय कार्य में बाधा ना डालें पाएं।

आम आदमी पार्टी के नेताओं की शर्मसार कर देने वाली इस घटना को देखने के बाद लगता है कि दिल्ली सरकार भ्रष्ट और गुंडे तत्व के लोगों के सहयोग में है, अगर नहीं? तो ऐसे लोगों पर तत्काल प्रभाव से सख्त कार्रवाई की जाना चाहिए। जो समाज के बीच रहकर असामाजिक तत्वों के रूप में काम कर रहे हैं। 

भारतीय पत्रकार संघ एआइजे के राष्ट्रीय मीडिया प्रभारी ने दिल्ली सरकार को पत्र लिखने की बात कही

दिल्ली के संगम विहार में बीते दिन की घटना जिसमें राजधानी के संगम विहार में वैक्सीनेशन के शासकीय कार्यक्रम में आम आदमी पार्टी के ही नेता द्वारा भेजे गए असामाजिक तत्वों द्वारा पत्रकारों को अपशब्द, गाली गलौज करने का मामला सामने आया है। उक्त विषय में भारतीय पत्रकार संघ के राष्ट्रीय मीडिया प्रभारी शाहनवाज शेख ने कहा कि ऐसे हालातों में दिल्ली पुलिस को उक्त आरोपियों जल्द से जल्द उचित कार्रवाई करना चाहिए ताकि युवा पीढ़ी अपराधी ना बन सके। साथ ही ऐसे असामाजिक तत्वों को संरक्षण देने वाले लोगों को दण्डात्मक कार्रवाई से दूर नहीं रखना चाहिए। शासकीय कार्य में बाधा डालकर यह लोग पुलिस को एक रूप से देखा जाए तो खुली चेतावनी देते हैं। जिससे लोग भी भयभीत हैं। सिविल डिफेंस की एक पुलिसकर्मी खुद साक्षात बयान दे रही है कि कुछ पार्टी के लोगों ने अपराधिक गतिविधियों जैसे वैक्सीनेशन केम्प पर पत्थरबाजी, गाली गलौज, मारपीट की है, फिर अभी तक कारवाई ना होना दिल्ली पुलिस पर भी कई सवाल खड़े करता है। उन्होंने बताया कि वह इस विषय में केंद्र और राज्य सरकार को पत्र भी लिखेंगे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button