Breaking News

साजिश के तहत हुआ कत्ल, मामले की सीबीआई जांच व हत्यारों को फांसी हो : शमीद, राबिया के पिता

राबिया हत्याकांड को लेकर दक्षिणी दिल्ली में जगह-जगह धरना प्रदर्शन

नई दिल्ली:- (मोमना बेगम) बीते दिनों दक्षिण दिल्ली के संगम विहार की सिविल डिफेंस में होकर लाजपत नगर के उपायुक्त कार्यालय में कार्यरत एक लड़की राबिया पिता शमीद निवासी संगम विहार दक्षिण दिल्ली का फरीदाबाद ले जाकर हत्या करने के मामले में अब दिल्ली की जनता परिजनों के साथ रोड पर उतरने लगी है। हाल ही में बीते दिन संगम विहार के एमबी रोड पर राबिया के समर्थन में लोगों ने भारी मात्रा में उपस्थित होकर धरना प्रदर्शन किया। इस दौरान दिल्ली की बेटी सुरक्षित नहीं है और राबिया को इंसाफ मिले जैसे नारों के साथ काफी देर तक प्रदर्शन किया गया।

ज्ञात हो 26 अगस्त को राबिया उम्र 21 की जिंदगी में एक खूनी मोड़ आया। निजामुद्दीन उम्र 25 नामक व्यक्ति ने राबिया के पूरे शरीर को चाकुओं से गोद कर बेरहमी से उसकी हत्या कर दी। और राबिया की लाश को ठिकाने लगाने के बाद निजामुद्दीन ने दिल्ली के कालिन्दी कुंज थाने में सरेंडर कर दिया। 

साजिश के तहत हुआ कत्ल’

उधर राबिया के परिवार वालों का दावा है कि उनकी बेटी का साजिश के तहत कत्ल हुआ, निजामुद्दीन ने घर से दफ्तर जाने के दौरान राबिया को उठाया और सूरज कुंड ले जाकर हत्या कर दी। परिवार ने पुलिस वह दिल्ली सरकार से से इंसाफ की गुहार लगाई तथा मामले को गंभीरता से लेते हुए सीबीआई जांच कराने की मांग की जा रही है। क्योंकि परिवार वालों ने बताया कि राबिया से किसी की कोई शादी नहीं हुई थी ना ही उसका कोई सबूत है और राबिया खुलकर हमसे हर बात किया करते थी अगर कोई ऐसी बात होती तो वह हमें जरूर बताती।

कांग्रेस के अल्पसंख्यक अध्यक्ष ने कहा- 

इस मुद्दे को लेकर राजनीति भी तेज होने लगी है, कांग्रेस के राष्ट्रीय अल्पसंख्यक अध्यक्ष इमरान प्रतापगढ़ी ने भी राबिया की हत्या को लेकर संवेदनाएं व्यक्ति की एवं कहा कि इस मामले को लेकर कुछ हिस्ट्री छुपाई जा रही है जिसकी सीबीआई जांच कर खुलासा किया जाना चाहिए, हो सकता है इस हत्या में अन्य लोग भी शामिल हो जो पर्दे के पीछे होकर इस काम को अंजाम दे रहे हो?

उधर परिजनों ने हत्यारे निजामुद्दीन के बयान को सिरे से खारिज करते हुए बताया कि अगर मेरी बेटी से किसी व्यक्ति के शादी के संबंध थे तो उसका सबूत भी होगा या होना चाहिए, परंतु आज दिनांक तक मौके पर ऐसे कोई प्रमाणित दस्तावेज उपलब्ध नहीं कराए गए। जिससे साफ जाहिर होता है कि हत्या की वजह कुछ और हो कर इसे दूसरा मोड़ दिया जा रहा है। उन्होंने कहा मेरी बेटी पर मरने के बाद भी लांछन लगाए जा रहा है जबकि उसकी किसी से कोई शादी नहीं हुई ना ही ऐसा कोई मामला कभी सामने आया था जिस लड़के ने उसकी हत्या की है वह शुरुआती दौर में जरूर टच में था नौकरी का फार्म वगैरह भरवाने में भी थोड़ी बहुत मदद की लेकिन इससे युवती के विवाह का कोई तालुकात नहीं था। अगर विधि सरकार बारीकी से सीबीआई जांच करती है तो मामले का पूर्ण खुलासा भी हो जाएगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button