Breaking News

टि्वटर इंडिया के एमडी मनीष माहेश्वरी का अमेरिका तबादला

 टि्वटर इंडिया के एमडी मनीष माहेश्वरी का अमेरिका तबादला

राजनीतिक गलियारों में भी हलचल, तकरारो के दौर में हुआ फैसला

नई दिल्ली:- (मोमना बेगम) शुक्रवार को ट्विटर इंडिया के हेड मनीष महेश्वरी को भारत से हटाकर माइक्रो ब्लॉगिंग साइट अमेरिका तबादला किए जाने की जानकारी प्राप्त हुई। प्राप्त जानकारी के अनुसार अब वह अमेरिका में नई भूमिका में काम करेंगे। उनका तबादला ऐसे समय पर हुआ है जब कांग्रेस और ट्विटर के बीच तकरार चल रही है। शुक्रवार को ही राहुल गांधी ने ट्विटर पर कई आरोप लगाए। इससे पहले नए नियम को लेकर केंद्र सरकार और ट्विटर के बीच भी काफी तीखी बहस देखने को मिली थी।

ट्विटर इंडिया के प्रबंध निदेशक के रूप में नियुक्त किए जाने के करीब दो साल बाद ट्विटर इंडिया के प्रमुख मनीष माहेश्वरी को अमेरिका स्थित ट्विटर के ऑपरेशंस कार्यों के लिए भेजा गया है।

मनीष माहेश्वरी ने 18 अप्रैल 2009 को नेटवर्क 18 से ट्विटर इंडिया ज्वाइन किया था और अब वह अमेरिका में सीनियर डायरेक्टर, रिवेन्यू स्ट्रेटजी एंड ऑपरेशंस का काम देखेंगे  ट्विटर के प्रवक्ता ने कहा- हम यह पुष्टि कर सकते हैं कि मनीष ट्विटर के साथ रहेंगे और नए रोल में सेन फ्रेंसिस्को में सीनियर डायरेक्टर, रिवैन्यू स्ट्रेटजी के तौर पर काम करेंगे। भारत सरकार के साथ ट्विटर के पिछले कई महीनों से लगातार तकरार जारी है। इसके साथ ही, नए आईटी कानून लागू करने को लेकर भी ट्विटर के साथ विवाद चला आ रहा है।

ट्विटर की तरफ से बताया गया है कि, अब माहेश्वरी को सैन फ्रांसिस्को में सीनियर डायरेक्टर, रेवेन्यू स्ट्रेटजी एंड ऑपरेशंस के पद पर भेजा गया है। वो आगे भी ट्विटर के साथ ही जुड़े रहेंगे।

गाजियाबाद पुलिस ने पूछताछ के लिए किया था तलब

मनीष माहेश्वरी तब चर्चा में आए थे, जब गाजियाबाद के लोनी में एक बुजुर्ग की पिटाई मामले को लेकर ट्विटर पर केस दर्ज हुआ था। यूपी पुलिस ने ट्विटर पर घटना को लेकर गलत ट्वीट्स पर ये मामला दर्ज किया था। साथ ही ट्विटर इंडिया के एमडी मनीष माहेश्वरी को पूछताछ के लिए लोनी बुलाया था। जिसके बाद माहेश्वरी ने कर्नाटक हाईकोर्ट में इसे चुनौती दी थी। हाईकोर्ट ने पहले यूपी पुलिस को वर्चुअल पूछताछ करने और माहेश्वरी को गिरफ्तारी से सुरक्षा दी थी और उसके बाद यूपी पुलिस के इस नोटिस को ही खारिज कर दिया था। जिसके बाद माहेश्वरी और ट्विटर दोनों को इस मामले में राहत मिली।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button