Breaking News

दिल्ली के जंतर-मंतर पहुंचे विपक्ष के कई दल, राहुल गांधी भी रहे शामिल

 दिल्ली के जंतर-मंतर पहुंचे विपक्ष के कई दल, राहुल गांधी भी रहे शामिल

किसानों के विरोध स्थल पर विपक्षी नेताओं का यह संगठित दौरा

नई दिल्ली:- (मोमना बेगम) कांग्रेस नेता राहुल गांधी सहित विपक्ष के अन्य नेता कृषि कानूनों के खिलाफ विरोध प्रदर्शन कर रहे किसानों से मिलने दिल्ली के जंतर-मंतर पहुंचे। इस दौरान राहुल गांधी समेत विपक्ष के अन्य नेता किसानों के विरोध प्रदर्शन में शामिल हुए। विपक्षी नेताओं ने किसान आंदोलन को अपना समर्थन व्यक्त किया और किसान संसद में भाग लिया। किसानों के विरोध स्थल पर विपक्षी नेताओं का यह पहला संगठित दौरा है।

हालांकि किसान नेताओं द्वारा राहुल गांधी सहित विपक्षी दल के किसी भी नेता को मंच पर आने की अनुमति नहीं दी है, कांग्रेस सहित अधिकतर विपक्षी दलों ने किसानों को अपना समर्थन दिया हुआ है। राहुल गांधी के साथ 14 विपक्षी दलों के नेता मौजूद थे।

इस दौरान पत्रकारों से बातचीत करते हुए राहुल गांधी ने कहा कि आज सभी विपक्षी पार्टियों ने काले कानूनों को हटाने के लिए अपना पूरा समर्थन दिया। हम संसद में पेगासस की बात करना चाहते हैं, वहां पर वो पेगासस की बात नहीं होने दे रहे हैं। नरेंद्र मोदी हर हिन्दुस्तानी के फोन के अंदर घुस गए हैं।

इस मौके पर जंतर मंतर पहुंचे सांसदों में कांग्रेस के राहुल गांधी, मल्लिकार्जुन खड़गे, द्रमुक के टीआर बालू और शिवसेना सांसद संजय राउत समेत अन्य विपक्षी नेता शामिल थे। हालांकि, जंतर-मंतर पर कृषि कानूनों के विरोध में तृणमूल कांग्रेस, बहुजन समाज पार्टी और आम आदमी पार्टी जैसी विपक्षी पार्टियां शामिल नहीं हुईं। नेताओं को किसान बचाओ, भारत बचाओ के नारे लगाते देखा गया।

आपको बता दें कि कृषि कानूनों के विरोध में पिछले साल नवंबर से ही दिल्ली के तमाम सीमाओं पर हजारों किसान विरोध-प्रदर्शन कर रहे हैं। वहीं, 22 जुलाई से संसद का मानसून सत्र शुरू होने के बाद से करीब 200 किसान जंतर मंतर पर डेरा डाले हुए हैं।

किसानों ने यहां उसी दिन किसान संसद शुरू की। किसानों ने कहा कि किसान संसद आयोजित करने का उद्देश्य यह प्रदर्शित करना है कि उनका आंदोलन अब भी जारी है तथा केंद्र को यह संदेश देना है कि वे भी जानते हैं कि संसद कैसे चलाई जाती है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button