Breaking News

सीडीओ ने स्वास्थ्य विभाग के अफसरों को चेताया, कहा, विभाग की योजनाओं का लाभ दिलाने में न बरतें कोताही

वाराणसी ब्यूरो

वाराणसी। मुख्य विकास अधिकारी अभिषेक गोयल ने सोमवार को स्वास्थ्य विभाग के टास्क फोर्स की बैठक ली। उन्होंने इसमें मौजूद विभागीय अधिकारियों को साफ चेताया कि स्वास्थ्य विभाग की योजनाओं का लाभार्थियों को लाभ दिलाने में कोई कोताही न बरती जाए। इसके साथ ही डाटा फीडिंग में सही आंकड़े दर्ज किये जाएं ताकि वास्तविक स्थिति का पता लग सके और जिस स्तर पर कमी पायी जाये उसमें सुधार के लिए समय से कदम उठाये जा सके।

कम वैक्सीनेशन पर अधीक्षक का वेतन रोका
जिलाधिकारी कैम्प कार्यालय पर चली इस बैठक में सीडीओ ने कोविड वैक्सिनेशन की ब्लॉकवार समीक्षा की। इस दौरान आराजी लाइन में खराब प्रगति पर वहां के अधीक्षक का वेतन रोकने का निर्देश दिया। इसके अलावा चोलापुर के अधीक्षक को एचबीएनसी के तहत कम भ्रमण किए जाने, गर्भवती महिलाओं की 4 एएनसी जांच कम किये जाने के कारण वेतन रोकने का निर्देश देते हुए कहा जब तक सुधार नहीं होता वेतन जारी नहीं होगा ।

शत प्रतिशत प्रसूताओं को मिले मुफ्त भोजन
जन आरोग्य योजना के अंतर्गत सभी चिकित्सालयों में आरकेएस निधि से 1-1 कंप्यूटर ऑपरेटर कार्य के लिए रखा जाये वह खाली समय में आयुष्मान योजना सम्बंधित फीडिंग करेगा। उन्होंने कहा कि शत प्रतिशत प्रसूताओं को मुफ्त भोजन की सुविधा उपलब्ध कराना सुनिश्चित किया जाए। इसके साथ ही आरबीएसके के एडिशनल सीएमओ को आरबीएसके योजना के प्रभावी क्रियान्वयन के लिए डीपीओ, डीआईओएस तथा बीएसए के साथ प्रत्येक माह कम से कम दो बैठकें करने को कहा।

बीमार बच्चों का हर हाल में करें उपचार
सीडीओ ने चिन्हित बीमार बच्चों में से न्यूनतम 80% बच्चों का हर हाल में उपचार करने का निर्देश दिया । उन्होंने कहा कि प्रत्येक माह सभी एसीएमओ व एमओआईसी निर्धारित प्रारूप पर एंबुलेंस 102, 108 तथा एएलएस का निरीक्षण रिपोर्ट प्रस्तुत करेंगे। मुख्य विकास अधिकारी ने मातृ मृत्यु के कारणों की समीक्षा पर जोर देते हए कहा कि इसे रोके जाने के लिए जरूरी कदम उठाए जाएं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button