Breaking News

राजस्थान : देश की आजादी को लेकर कंगना रनोट द्वारा दिए गए विवादित बयान पर राजस्थान के जयपुर में एफआईआर दर्ज

जयपुर : मशहूर अभिनेत्री कंगना रानोत द्वारा भारत देश की आजादी को लेकर विवादित बयान देना बॉलीवुड एक्ट्रेस के लिए भारी पड़ रहा है। राजस्थान में शुक्रवार को उनके खिलाफ चार शहरों में पुलिस से शिकायत की गई है। जयपुर कोतवाली और जोधपुर के शास्त्रीनगर थाने में मुकदमा दर्ज भी हो गया है, जबकि उदयपुर के सुखेर थाने और चूरू कोतवाली की पुलिस शिकायतों की जांच कर रही है। इसके अतिरिक्त छिंदवाड़ा में भी ऑनलाइन रिपोर्ट दर्ज कराये जाने की जानकारी प्राप्त हुई है।

जयपुर में शहर महिला कांग्रेस ने कोतवाली थाने में रनोट के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया है। इसमें आजादी के लिए शहीद हुए क्रांतिकारियों की प्रतिष्ठा का अपमान करने, संविधान के प्रति आस्था रखने वालों को आहत करने का आरोप लगाया गया है। महिला मोर्चा की अध्यक्ष रानी लुबाना ने शिकायत में बताया कि 15 अगस्त 1947 को देश आजाद हुआ और उस आजादी के लिए हजारों लोगों ने अपना बलिदान दिया। वो क्षण प्रत्येक आजाद भारतीय के लिए गौरवान्वित क्षण था। पूरी दुनिया ने भारत की आजादी देखी और शहीदों को आज भी सम्मान की नजर से देखता है।

उन्होंने कहा, 10 नवंबर को फिल्म अभिनेत्री और पद्मश्री कंगना ने सार्वजनिक मंच पर यह बयान दिया कि 1947 में भारत को जो आजादी मिली वह आजादी नहीं एक भीख थी। असल आजादी साल 2014 में मिली है। अभिनेत्री के इस बयान से संविधान के प्रति आस्था रखने वालों लोगों को चोट पहुंची है। इस बयान से शहीद भगत सिंह, चंद्रशेखर आजाद, महात्मा गांधी समेत तमाम शहीदों और क्रांतिकारियों का अपमान किया गया है।

देशभर में हो रहा है विवाद

कंगना के इस बयान को लेकर पूरे देशभर में विवाद हो गया है। कंगना अब कांग्रेस, एनसीपी समेत तमाम राजनैतिक पार्टियों, सामाजिक कार्यकताओं समेत आमजन के निशाने पर आ गई है। सोशल मीडिया पर कंगना के इन बयानों पर लोगों की जबरदस्त प्रतिक्रिया आ रही है। इससे पहले कंगना महाराष्ट्र की आर्थिक राजधानी मुंबई पर दिए बयान को लेकर विवादों में आई थीं। तब कंगना ने मुंबई में रहने पर पीओके में रहने जैसा अहसास होने की बात कही थी।

अभी और दर्ज होंगे मुकदमे

राजस्थान महिला कांग्रेस पूरे प्रदेश में कंगना के खिलाफ देशद्रोह की शिकायत दर्ज करा रही है। महिला कांग्रेस ने हर जिले में अपनी जिलाध्यक्ष को आदेश देकर कंगना के खिलाफ एफआईआर कराने को कहा है। महिला कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष रेहाना रियाज ने कहा कि भीख में वीर सावरकर को माफी मिली थी और भीख में कंगना रनोट को पदमश्री मिला है। मगर आजादी भीख में नहीं बल्कि लंबे संघर्ष के बाद मिली है।

रेहाना रियाज ने कहा कि कंगना ने इस बयान से लाखों स्वतंत्रता सेनानियों, शहीदों और संविधान का अपमान किया है। यह देशद्रोह की श्रेणी में आता है। उनके ऊपर आपराधिक मुकदमे दर्ज कर उन्हें गिरफ्तार करना चाहिए। उन्होंने बताया कि जोधपुर के शास्त्री नगर थाने में भी मामला दर्ज किया गया है। उदयपुर के सुखेर थाना और चूरू में भी कंगना के खिलाफ थाने में शिकायत दी गई है। (साभार DB)

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button