Breaking News

यात्रियों के सामान चोरी करने वाला युवक 110 ग्राम नशीले पाउडर अल्प्राजोलम संग गिरफ्तार

वाराणसी ब्यूरो

अल्प्राजोलम (Alprazolam) को अक्सर चिकित्सक स्मृति हानि, चक्कर आना, तंद्रा, निराशा, उलझन में अपने मरीजों को लिखते हैं ताकि वह पूरी नींद ले सके। यह दवा चिकित्सकीय सलाह और पर्चे पर ही मिलती है। मगर इस दवा का इस्तेमाल चोर या लुटेरे नशीले पदार्थ की तरह इस्तेमाल करते है।

वाराणसी। यात्रियों के साथ घुल मिलकर चाय, बिस्किटऔर पानी में नशीला पाउडर डालकर समान चोरी करने वाले एक आरोपी को सिगरा पुलिस ने मुखबीर की सूचना पर मालगोदाम से धर दबोचा है। उसके पास से पुलिस ने 110 ग्राम नशीला पाउडर अल्प्राजोलम बरामद किया है। सिगरा पुलिस ने पकड़े गए आरोपी को एनडीपीएस एक्ट में जेल भेज दिया है। गिरफ्तार करने वाली टीम में तेज़तर्रार चौकी प्रभारी रोडवेज़ अनन्त कुमार मिश्र, सिगरा थाने के क्राइम टीम प्रभारी प्रकाश सिंह, कांस्टेबल विपिन यादव, हेड कांस्टेबल संतोष सिंह, कांस्टेबल अविनाश कन्नौजिया और कांस्टेबल सूरज भारती शामिल रहे।

मुसाफिरों को बनाते थे निशाना

स्टेशन के समीप मालगोदाम पर पुलिस को देखकर भागने वाले मिर्जामुराद के भोरकला निवासी दयाल मिश्र उर्फ अमन ने पुलिस पूछताछ में बताया कि वह अपने साथी सत्य नरायन उर्फ गुड़ाहे, शत्रुधन उर्फ जितेन्द्र साहनी पसियाही थाना कंछवा जनपद मिर्जापुर व एक अन्य साथी संदीप के साथ मिलकर रेलवे स्टेशन के पूछताछ केन्द्र और रेलवे की लाईन में मुसाफिरों से घुल मिलकर कि कहा जाना है जहाँ वे लोग बताते हैं उसी स्थान पर हम लोग भी बता देते है कि जाना है उनसे निकटता बनाकर चाय, बिस्कुट, पानी व भोजन में उस पाउडर को मिलाकर खिला पिला देते हैं नशे में जब यात्री सो जाते है तो उनका सामान चोरी कर भाग जाते हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button