Breaking News

गुजरात : मोरबी के जिंजुड़ा में एटीएस की बड़ी कार्यवाही, 600 करोड़ रुपये कीमत की 120 किलो हेरोइन (ड्रग्स) जब्त की, तीन गिरफ्तार।

मोरबी : देश मे नशे की दुनिया मे एक बार फिर खलबली, गुजरात में एक बार फिर भारी मात्रा में ड्रग्स की बरामदगी की गई है। इस बार गुजरात एटीएस ने मोरबी के ज़िंजुडा गांव से करीब 600 करोड़ रुपए की हेरोइन बरामद की है।

ड्रग्स मामले में एटीएस को बड़ी सफलता हासिल हुई, गुजरात एटीएस ने इस मामले में तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया है। जानकारी के अनुसार सभी आरोपियों से पुलिस इस मामले में पूछताछ कर रही है। इस पूरी कार्रवाई को गुजरात पुलिस और एटीएस की बड़ी कामयाबी के तौर पर देखा जा रहा है। गुजरात पुलिस की इस ड्रग्स स्ट्राइक के तहत ड्रग्स के सौदागर, सेवन करने वाले किसी भी शख्स को नहीं बख्शा जाएगा।

बता दें, कि पिछले 59 दिनों में ड्रग्स जब्त करने के कई मामले सामने आए हैं। जिसमें 91 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है और इनके पास से 1100 करोड़ रुपये की 5876 किलोग्राम ड्रग्स बरामद की गई है। इसके साथ ही आपको ये भी बता दें कि गुजरात के गृह राज्यमंत्री के तौर पर हर्ष संघवी को शपथ लिए हुए आज 59 दिन पूरे हुए हैं। ऐसे में ये कहना गलत नहीं होगा कि गृह राज्यमंत्री हर्ष संघवी के नेतृत्व में गुजरात पुलिस बेहतरीन काम कर रही है।

गुजरात पुलिस और एटीएस की इस कार्रवाई पर गृह राज्यमंत्री हर्ष संघवी ने ट्वीट कर इसे गुजरात पुलिस की एक और बड़ी कामयाबी बताया है। हर्ष संघवी ने ट्वीट कर लिखा गृह राज्यमंत्री ने ट्वीट करते हुए लिखा कि ”राज्य की पुलिस गुजरात से ड्रग्स का सफाया करने के लिए कड़ी कार्रवाई करने में जुटी हुई है, और इसी कड़ी में गुजरात एटीएस ने करीब 120 किलो का ड्रग्स कीमत 600 करोड़ लगभग को पकड़ा है।”

इससे पहले आपको बता दें कि गुजरात पुलिस ने कच्छ के मुंद्रा पोर्ट से बड़ी मात्रा में हेरोइन बरामद की थी। जानकारी के मुताबिक द्वारका से पुलिस ने करीब 350 करोड़ रुपये की ड्रग्स बरामद की है। जिसके बाद पुलिस आगे की कार्रवाई में जुट गई थी

कई दिनों तक चला सर्च ऑपरेशन

मुंद्रा कोर्ट का स्वामित्व अदानी पोर्ट के पास है। अदानी पोर्ट प्रसिद्ध उद्योगपति गौतम अदानी की कंपनी है। डीआरआई और कस्टम विभाग के संयुक्त ऑपरेशन में यह बड़ी मात्रा में हेरोइन जब्त करने में कामयाबी मिली थी। इसके लिए कई दिनों तक सर्च ऑपरेशन चला था। इस कार्रवाई के दौरान मुंद्रा पोर्ट के दो कंटेनर की तलाशी में 9 हजार करोड़ का ड्रग्स बरामद किया गया। इस ड्रग्स तस्करी से बहुत बड़े रैकेट के जुड़े होनी की आशंका जताई जा रही है।

डाआरआई सूत्रों के मुताबिक हेरोइन ले जाने वाला कंटेनर आंध्र प्रदेश के विजयवाडा की एक ट्रेडिग कंपनी ने आयात किया था। इस फर्म ने कंटेनर में टेलकम पाउडर होने का झांसा दिया था  लेकिन तलाशी के वक्त गांधीनगर की फॉरेंसिक एक्सपर्ट की टीम मौजूद थी, इस टीम ने टेस्ट कर यह बता दिया कि यह जिसे टेलकम पाउडर कहा जा रहा है, दरअसल वह हेरोइन है।

अफगानिस्तान से आए थे कंटेनर

पहले कंटेनर में 199.58 किलोग्राम हेरोइन पाया गया और दूसरे कंटेनर में 988.64 किलोग्राम हेरोइन पाया गया था यानी 2 हजार 988.22 किलो ग्राम हेरोइन जब्त की गई। अफगानिस्तान के कंधार स्थित हसन हुसेन लिमिटेड ने ये दोनों कंटेनर निर्यात किए  थे। ये कंटेनर ईरान के बंदर अब्बास पोर्ट से आए। अधिकारियों के दावे के मुताबिक यह दुनिया में अब तक जब्त की गई हेरोइन की सबसे बड़ी खेप है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button