Breaking News

विभाग अपने अमले का वैक्सीनेशन का सर्टीफिकेट दें – कलेक्टर डॉं. जैन

लंबित कई प्रकरणों का हुआ निराकरण

धार  :- सभी विभाग विभाग प्रमुख अपने अमले का वैक्सीनेशन का सर्टीफिकेट दे। एम पेंशन मित्र एप का शत-प्रतिशत लक्ष्य पूर्ण करें, अपनी साप्ताहिक प्रगति अपलोड करें। लोन के प्रकरणों में स्वीकृति समयसीमा में हो तभी हितग्राही को उसका लाभ मिल सकता है। यह निर्देश कलेक्टर डॉं. पंकज जैन मंगलवार को आयोजित समयावधि पत्रों की समीक्षा बैठक में दिए। बैठक कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में आयोजित हुई थी। एडीएम सलोनी सिडाना साथ मौजूद थीं।
     

कलेक्टर ने कहा कि हेडवाश यूनिट का प्रोपर सुपरवीजन किया जाए। देखें कि बार-बार सुधार की आवश्यकता न पड़े। आंगनवाडी का अमला समय पर उपस्थित होकर अपने कर्तव्यों का निर्वहन करें। इसका लगातार पर्यवेक्षण होता रहे। मजदूरी का समय पर भुगतान होता रहे। सभी सम्बन्धित विभाग सुनिश्चित करें की जो व्यक्ति नए वेयर हाउस खोलना चाहते है, उन्हें किसी प्रकार की दस्तावेज़ी कठिनाई का सामना न करना पड़े। इनके सारे ईशु साल्व किया जाए। जनप्रतिनिधियों के पत्रों के जवाब समय पर प्रस्तुत किया जाए। मार्ग निर्माण में क्रास डक्स को देखते रहे, ताकि बाद में पाईप लाईन या केबल डालने में सड़क खोदने की नोबत न आए । सभी बीएमओ, पीएसए प्लांट के मोकपाल की सारी कार्यवाही सुनिश्चित करें। साथ ही फायर व इलेक्ट्रानिक आडिट प्रस्तुत करे। वैक्सीनेशन महाअभियान में सभी कार्यवाही सुनिश्चित करें। कोविड अनुग्रह सहायता के  प्रकरणों का आवेदन तैयार करें। राजस्व अनुभाग में कहीं भी नामांतरण-बटवारे के प्रकरण डिले न रहे। डीएमओ उर्वरक की उपलब्धता के लिए लगातार एसडीएम के सम्पर्क में रहे। सभी एसडीएम राजस्व अभियान की प्रगति पर फोकस करें। इसके लिए लगातार कार्यवाही जारी  रहे। जनसुनवाई में शिकायत मार्क होने के बाद उसका पालन प्रतिवेदन आगामी जनसुनवाई में प्रस्तुत करें। इसके अलावा पिछली चार जनसुनवाई के शिकायत का पालन प्रतिवेदन प्रस्तुत करना सुनिश्चित करें। अनुभाग स्तर पर जनसुनवाई के प्रकरण का निराकरण किया जाए।
     

बैठक में बताया गया कि समयावधि के अनेक  पत्रों  का निराकरण किया गया है। जिसमें आंगनवाडी भवनों का निर्माण कार्य पूर्ण कराने के संबंध में मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत ने कार्यपालन यंत्री ग्रामीण यांत्रिकी सेवा संभाग धार, मनावर एवं समस्त जनपद सीईओ को निर्देशित किया है। इसी प्रकार बैंकों के द्वारा फसल बीमा से संबंधित जानकारिया बीमा कंपनी को भेजी जा चुकी है। बैंक की ओर से मिसमैच से संबंधित कोई रिकार्ड भेजना शेष नहीं है। इसी प्रकार सीसी रोड के नाम पर लाखों रूपए की राशि निकालकर खर्च करने के संबंध में मुख्य कार्यपालन अधिकारी उमरबन द्वारा प्रस्तुत प्रतिवेदन अनुसार जॉंच में पाया गया कि गंगाराम के घर से पूनम के घर तक सीसी रोड निर्माण कार्य में एक लाख 2 हजार रूपए की राषि आहरण प्रधान/सचिव द्वारा किया गया। कार्य स्थल पर सामग्री 32 हजार रूपए की उपलब्ध पाई गई। जॉंच दिनांक को कार्य अप्रारम्भ था। सचिव रमेष कनेल जॉंच के समय अनुपस्थित थे। सचिव से 70 हजार रूपए की वसूली की गई। इसी प्रकार शासन निर्देशानुसार 3 दिसम्बर को दिव्यांग दिवस का आयोजन होना है। इसके संबंध में तैयारियां पूर्ण की जा चुकी है।
     

प्रधानमंत्री आदरर्श ग्राम योजना अंतर्गत चयनित ग्रामों में हितग्राहीमूलक योजना अन्तर्गत बदनावर विकासखण्ड के चयनित दोनों ग्रामों में आयुष्मान कार्ड योजना में 900 कार्ड बनाए जा चुके है। इसके अलावा जीवन ज्योति बीमा योजना में 74 हितग्राहियों को लाभ प्रदान किया गया है। प्रधानमंत्री बीमा योजना में 48 हितग्राहियों का लाभ प्रदान किया गया है। पिछले एक वर्ष में इसी प्रकार धरमपुरी नगर के प्रत्येक घर से निकलने वाले ठोस अपशिष्ट पदार्थ को डोर-टू-डोर एकत्रित किया जाकर गिला-सुखा कचरा घरों से ही पृथक-पृथक कर लिया जाता है। एकत्रित कचरा को तारापुर रोड स्थित ट्रेचिंग ग्राउण्ड हेतु निर्धारित भूमि पर भेजा जाकर गिले कचरे से कंपोस्ट पीट के माध्यम से खाद बनाने की प्रक्रिया अनुसार निपटान किया जा रहा है। सुखे कचरे में प्राप्त पोलिथिंस को अल्ट्राटेक सीमेंट फैक्ट्री में किए गए अनुबंध के अनुसार समय-समय पर भिजवाया जाता है। एमआरएफ सेन्टर का भी उपयोग निर्धारित प्रक्रिया अनुसार किया जा रहा है। सहायता राशि देने के संबंध में मूलचंद पिता नंदु का संबल पंजीयन भौतिक सत्यापन के दौरान निकाय द्वारा अपात्र किया गया है। योजना अंतर्गत अपात्र होने की स्थिति में निकाय द्वारा शासन की अन्य योजना राष्ट्रीय परिवार सहायता योजना अन्तर्गत 20 हजार रूपए की आर्थिक सहायता का लाभ दिया जा चुका है।
     

कलेक्टर डॉं. जैन को जनसुनवाई में ग्राम पंचायत अंतराय के ग्राम भुसावदा में निर्माणाधीन आंगवाडी के संबंध में शिकायत की गई। इस पर कलेक्टर ने संबंधित अधिकारी को जॉंच के लिए निर्देशित किया गया। जॉंच प्रतिवेदन अनुसार ग्राम पंचायत के सरपंच, उप सरपंच एवं सचिव ने अवगत कराया कि उक्त स्थल का पटवारी द्वारा चिन्हांकित शासकीय भूमि नंबर 159 पर निर्माण किया जा रहा है। शासकीय भूमि पर तालाब की वेस्ट वीयर आदि नहीं है। ग्रामीणों द्वारा पशुओं को पानी पीने के मान से तलाई बनाई गई। इसी प्रकार आंगनवाडी कार्यकर्ता ने बताया कि निर्माणाधीन स्थल पर आंगनवाडी बनने से सुविधा होगी, गांव के पास होने से बच्चे भी आसानी से आ सकेंगे तथा बच्चों को कोई परेशानी नहीं होगी। जॉंच में पाया गया कि निर्माणाधीन स्थल पर वेस्ट वीयर नहीं होने से तालाब तो नहीं है, किन्तु उक्त स्थल पर ग्रामीणों द्वारा जानवरों को पानी पीने के लिए बड़ा गड्ढा है। यह स्थल गांव के पास है तथा स्थल से वर्षाऋतु के बाद भी पानी काफी दूर है। इस स्थल पर भवन बनाने में कोई परेशानी नहीं है। स्थल के ठीक सामने से गांव में जाने का रास्ता होने से बच्चों को आने-जाने में कोई परेशानी नहीं होगी। भवन की मजबूती हेतु ग्राम पंचायत द्वारा भवन के पीछे 2.60 मीटर का अतिरिक्त कार्य ग्राम पंचायत द्वारा किया गया, ताकि भवन सुरक्षित रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button