Breaking News

10 वर्षीय मासूम बच्ची से बलात्कार के आरोप में भाई, पिता और ताऊ गिरफ्तार

चचेरे भाई ने किया बलात्कार, पिता और ताऊ ने छुपाई जानकारी, माँ ने किया उजागर

मनावर। मप्र:- आज के दौर में दरिंदगी के जितने उदाहरण दिए जाए कम है। पूरे देश में मासूम बच्चियों के साथ बलात्कार के मामले आए दिन सामने आते रहते हैं, जिसको लेकर कानून भी सख्त होते जा रहे हैं। प्राप्त जानकारी के अनुसार ऐसे ही धार जिले के मनावर थाना क्षेत्र में उमरबन चौकी अंतर्गत 10 साल की लड़की से उसके चाचा के लड़के ने बलात्कार करने की खबर सामने आई है। मामला जब सामने आया जब बच्ची के प्राइवेट पार्ट से खून बहता दिखाई देने और मां ने पूछा तो बताया कि भाई ने उसके साथ गलत काम किया है, वही पता यह भी चला कि पिता ने बात को दबा दी। घटना होने के बाद वे बच्ची को लेकर अस्पताल पहुंचा। वहां डॉक्टर और पुलिस को घटना के बारे में बताते हुए कहा कि बच्ची को खेलते वक्त सरिया लग गया है। लेकिन मासूम बच्ची की मां ने थाने पहुंचकर पूरी हकीकत बयां की और केस दर्ज कराया। पुलिस ने आरोपी भाई को गिरफ्तार कर लिया है। घटना की जानकारी छिपाने एवं गुमराह करने के कारण बच्ची के पिता और ताऊ को हिरासत में लिया है।

मासूम की मां ने बताया कि बीते मंगलवार को वह किराना दुकान पर सामान लेने गई थी। उसी दौरान रास्ते में वह अपने रिश्तेदार (बड़े पापा) के घर टीवी देखने के लिए चली गई। जिसके बाद तकरीबन दोपहर 2 बजे अपने घर लौटी। लड़की के घर लौटने पर परिजनों ने देखा कि उसके कपड़ों पर खून के निशान थे। मां ने पूछा तो उसने बताया कि भाई ने उसके साथ गलत हरकत की है। उसने पति को यह जानकारी दी, लेकिन परिवार के लोगों ने मामला छिपाने की कोशिश की।

मनावर थाना प्रभारी ब्रजेश कुमार मालवीया ने बताया कि बच्ची को खून आने पर परिवार के लोग उसे गांव के अस्पताल लेकर पहुंचे थे। वार्ड बॉय की सूचना पर पुलिस पहुंची। परिवार ने बताया कि बच्ची को खेलते समय सरिया लग गया है। यहां से परिवार बच्ची को बड़वानी के अस्पताल ले गए। वहां रातभर बच्ची भर्ती रही। पुलिस को मामला संदिग्ध लगा, इसीलिए पुलिस ने मामले की तहकीकात करने के लिए परिवार की हरकतों पर नजर रखी।

बताया जा रहा है कि बच्ची बड़वानी के अस्पताल में रातभर एडमिट रही। दूसरे दिन बुधवार को परिवार उसे लेकर अपने बंजारी गांव लौट आया। जब पीड़ित लड़की मां को पता चला कि पुलिस इस मामले में पूछताछ कर रही है, तो उसने थाने पहुंच कर सबकुछ बता दिया। पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज कर सबसे पहले आरोपी भाई को गिरफ्तार किया। वही गांव से भागने की तैयारी कर रहे बच्ची के पिता और बड़े पापा को भी हिरासत में ले लिया है। इनके खिलाफ भी घटना छिपाने का केस किया गया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button