Breaking News

चाचा ने अपनी ही भतीजी के साथ किया बलात्कार, पुलिस ने 376 सहित अन्य धाराओं के तहत किया मामला दर्ज़, आरोपी फरार।



शिवसेना का उप शाखा प्रमुख है आरोपी धर्मेन्द्र चौबे

मुंबई : (महाराष्ट्र) आज के दौर में हर दिन हैवानियत के नए नए प्रकरण देखने और सुनने को मिलते है। हवस की आग में लोग खून के रिश्तों को भी तार-तार कर देते है। ऐसा ही एक मामला मुंबई के ठाणे इलाके में देखने को मिला, जहां एक चाचा (धर्मेंद्र चौबे, उप शाखा प्रमुख, शिवसेना पार्टी) ने अपनी ही भतीजी के साथ बलात्कार कर दिया एवं उसे जान से मारने की धमकी देकर लड़की का अश्लील वीडियो भी बनाया।

मामला ठाणे इलाके के वर्तक नगर पुलिस स्टेशन का है, जहां परिजनों की शिकायत के बाद पुलिस ने 376 सहित अन्य धाराओं के साथ प्रकरण दर्ज किया।

मदद की गुहार लगाते हुए परिजन



प्राप्त जानकारी के अनुसार 26 अगस्त को पीड़िता लड़की कि परिचित और आरोपी धर्मेंद्र चौबे की मित्र दर्शना गवली पीड़िता के घर पहुंची थी और पीड़िता के परिजनों को कहा कि मैं अपनी मैडम के घर जा रही हूं इसलिए लड़की को साथ ले जाना चाहती हूं, परिजनों ने उसे जाने के लिए इजाजत दे दी चुकी दर्शना गवली का पीड़िता के घर आना जाना लगा हुआ था। लेकिन दर्शना गवली पीड़िता को अपनी मैडम के घर न ले जाते हुए बहला फुसलाकर खुद के घर लोकमान्य नगर ले गई। पीड़िता ने परिजनों (भाई भाभी) को घटना के बारे में बताया कि दर्शना गवली उसे स्वयं के घर ले जाकर हवस के भूखे चाचा धर्मेंद्र चौबे के हवाले कर दिया। उसके बाद चाचा ने युवती के हाथ रस्सी से बांध दिए और बेरहमी से पीड़िता के साथ बलात्कार किया और उसका वीडियो भी बनाया तथा किसी को कुछ बताने के बदले जान से मार देने की धमकी भी दी।

परिजनों के अनुसार बलात्कार के इस प्रकरण में दर्शना गवली का भी अहम रोल है, जो षडयंत्र पूर्वक पीड़िता को उसके घर से अपने घर लेकर गई और हवसी चाचा के हवाले कर दिया जहां चाचा ने खून के रिश्तो को तार-तार करते हुए अपनी ही भतीजी को हवस का शिकार बना लिया।

पीड़िता के भाई ओमप्रकाश चौबे ने बताया कि आरोपी चाचा धर्मेंद्र चौबे शिवसेना पार्टी का नेता होकर शाखा उप प्रमुख भी है जो घटना वाले दिन से ही फरार है, जो आज दिनांक तक पुलिस की पहुंच से बाहर है। पीड़िता की भाभी ने यह भी बताया कि चाचा ने पहले उसके साथ भी बलात्कार करने की कोशिश की थी, लेकिन वह नाकाम रहा। लेकिन हैरत की बात तो यह है कि परिवार के कुछ सदस्य भी चाचा के सहयोग में बात कर रहे हैं।

भाई और भाभी ने लगाई मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे से गुहार

घटना के 5 दिन बाद पीड़िता अपने अन्य परिजनों के साथ घर से गायब हो जाने की खबर आई। जिसकी तलाश में पीड़िता के भाई ओमप्रकाश चौबे और उसकी पत्नी ने 2 सितंबर की रात्रि 2 बजे मौजूदा मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे के घर के बाहर जाकर गुहार लगाई कि बहन के साथ हुई इस दरिंदगी के आरोपी शिवसेना शाखा उप प्रमुख धर्मेंद्र चौबे की गिरफ्तारी जल्द से जल्द की जाए और मेरी बहन जो 2 तारीख की शाम से परिवार के अन्य सदस्यों के साथ गायब ही उसकी तलाश भी की जाए। भाई भाभी परेशान होते रहे जिसके बाद अगले दिन युवती परिवार के अन्य सदस्यों के चंगुल से भागकर पुलिस चौकी पहुंची जहां उसने बताया कि परिवार के अन्य सदस्य आरोपी धर्मेंद्र चौबे का सहयोग कर रहे हैं और युवती को केस वापस लेने तथा आरोपी के पक्ष में बयान देने की बात कर रहे थे। जैसे तैसे लड़की उनके चंगुल से भागकर पुलिस चौकी पहुंची जहां उसने घटना की पूरी जानकारी थी। हाल फिलहाल पीड़िता पुलिस की कस्टडी में थे जिसका मेडिकल भी हो चुका है, प्राप्त जानकारी के अनुसार पुलिस पीड़िता को 6 सितंबर को कोर्ट में हाजिर करेगी। मामले की जांच पुलिस विभाग के उल्लास सुर्वे द्वारा की जा रही है।

पीड़िता के भाई ओमप्रकाश चौबे ने मांगी प्रोटेक्शन

बहन के साथ हुए बलात्कार के मामले में दौड़ भाग कर रहे भाई और भाभी को अब डर सताने लगा है की आरोपी उन्हे मरवा ना दे। पीड़िता के भाई ओमप्रकाश चौबे ने बताया कि चाचा धर्मेंद्र चौबे एक रसूखदार नेता है घटना की रिपोर्ट दर्ज कराने के बाद से ही कई लोगों द्वारा ओमप्रकाश चौबे पर प्रेशर बनाया जा रहा है कि वह मामले को दबा दें। पीड़िता के भाई ने बताया कि चाचा किसी भी हद तक गिर सकता है और वह हमें जान से भी मरवा सकता है क्योंकि जो चाचा अपनी ही भतीजी को दरिंदगी का शिकार बना सकता है वह खुद के खिलाफ कार्यवाही करवाने वाले को भी मरवा सकता है। पीड़िता का भाई और भाभी लगातार परेशानी से गुजर रहे हैं, उनका कहना है कि ना तो पुलिस उनका बराबर सहयोग कर रही है और ना ही उनकी सुरक्षा के लिए कोई उचित कदम उठाए हैं।

परिजनों ने पुलिस पर उठाए सवालिया निशान

पीड़िता के भाई ओमप्रकाश चौबे ने बताया कि पुलिस उनका पूर्ण रूप से सहयोग नहीं कर रही है, बलात्कार की घटना को अंजाम दिए 7 दिन हो चुके हैं मगर अभी तक उसे पकड़ने के लिए कोई ठोस कदम नहीं उठाएं और वह अभी भी पुलिस की हिरासत से बाहर है जबकि बलात्कार के आरोपियों को पकड़ने के लिए पुलिस हर संभव प्रयास कर सकती है। ओमप्रकाश चौबे ने बताया कि आरोपी ज्यादा दूर नहीं है वह कल्याण इलाके में ही कही छुपा हुआ है जिसकी सूचना सूत्रों से मिल रही है और कई लोग उसके सहयोग में है जो मामले को रफा-दफा करवाना चाहते हैं।

पुलिस ने कहा..

पुलिस विभाग के श्री पाटिल ने बताया कि मामले की जांच चल रही है आरोपी को पकड़ने के हर संभव प्रयास किए जा रहे हैं मुखबिर तंत्र भी लगाए गए हैं जैसे ही स्वर्ग मिलेगा आरोपी को पकड़ लिया जाएगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button