Breaking News

अजमेर दरगाह पहुंची प्रधानमंत्री शेख हसीना, दोनों देशों के बीच मजबूत संबंध और अमन-चैन दुआ मांगी

अजमेर : बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना ने आज को दोपहर में अजमेर पहुंचीं, जहां उन्होंने अजमेर शरीफ दरगाह में जियारत की और शाम को उनका जयपुर से वापसी का कार्यक्रम रहा। इससे पहले प्रधानमंत्री हसीना अपने प्रतिनिधिमंडल के साथ विशेष विमान से जयपुर अंतरराष्‍ट्रीय हवाई अड्डे पर पहुंचीं थी।हवाई अड्डा सूत्रों के अनुसार राज्‍य के शिक्षा मंत्री बी डी कल्ला व आला अधिकारियों ने हसीना की अगवानी की। यह प्रतिनिधि मंडल हवाई अड्डे के वीआईपी लाउंज में कुछ देर रुका, इसके बाद काफिला सड़क मार्ग से अजमेर के लिए रवाना हुआ। हसीना वहां ख्वाजा साहब की दरगाह में जियारत की।

9 घंटे तक एंट्री नहीं

अजमेर में गरीब नवाज ख्वाजा मोईनुद्दीन हसन चिश्ती की विश्व प्रसिद्ध दरगाह में आज 9 घंटे तक जायरीनों की एंट्री नहीं हो सकी। अजमेर जिला प्रशासन ने सुबह 8 बजे दरगाह में प्रवेश पर रोक लगाते हुए दरगाह क्षेत्र को खाली करवा दिया था, बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना के दरगाह दौरे के दौरान सुरक्षा कारणों से प्रशासन ने यह रोक लगाई थी।

अजमेर में रही चाक-चौबंद सुरक्षा

बता दें कि शेख हसीना की यात्रा के लिए अजमेर दरगाह को सुरक्षा के लिहाज से पूरी तरह खाली करवा लिया गया था। वहीं उनके काफिले के गुजरने के दौरान सड़क से निकलने वाली संकरी गलियों को भी बंद कर दिया गया। मालूम हो कि बांग्लादेश प्रधानमंत्री के साथ उनकी कैबिनेट के 30 से ज्यादा मंत्री और रिश्तेदार भी अजमेर पहुंचे हैं।

जयपुर एयरपोर्ट पर थिरकी प्रधानमंत्री

शेख हसीना ने दरगाह में जियारत कर बांग्लादेश और भारत के बीच मजबूत संबंध और अमन-चैन दुआ मांगी। वहीं शेख हसीना के अजमेर दौरे को लेकर पुलिस प्रशासन के कडे़ इंतजाम रहे।अजमेर के फव्वारा सर्किल से लेकर दिल्ली गेट होते हुए दरगाह बाजार तक सभी दुकानें सुबह 11 बजे से बंद रखी गई।

वहीं अजमेर जाने से पहले शेख हसीना विशेष विमान से सुबह जयपुर एयरपोर्ट पहुंचीं जहां उनका भव्य स्वागत किया गया।जयपुर एयरपोर्ट पर उतरते ही माला पहनाकर और तिलक लगाकर उनके स्वागत में सांस्कृतिक कार्यक्रम पेश किए गए।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button