Breaking News

आईरा की प्रदेश कार्यकारणी की बैठक, पत्रकार पेंशन योजना पर हुई चर्चा

बैठक करते हुए आईरा पदाधिकारी

ए एस खान- लखनऊ

श्रमजीवी पत्रकारों के भविष्य को लेकर हुआ मंथन

लखनऊ। विश्व के 16 देशों सहित भारत के 28 राज्यो में मजबूती से पत्रकारों के हितों के लिए संघर्षरत आई,एस,ओ द्वारा प्रमाणित तथा विश्व में सर्वाधिक सदस्यों वाली संस्था के रूप में ब्रावो इंटरनेशनल बुक्स आफ वर्ल्ड रिकार्ड मे नामित आईरा इंटरनेशनल रिपोर्टर्स एसोसिएशन तथा आल इन्डियन रिपोर्टर्स एसोसिएशन आईरा उत्तर प्रदेश युनिट की कार्यकारणी की बैठक आज दिनांक 9/9/2022 को नाजा मार्केट हजरतगंज मे संपन्न हुई जिसमे संगठन के विस्तार, आगामी कार्यक्रमो की रूपरेखा तय करने के साथ ही उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा शुरू की गई पत्रकार पेंशन योजना का स्वागत करने के साथ ही इसके प्रावधानों पर गहरा असंतोष व्यक्त किया गया ।


आईरा उत्तर प्रदेश के महासचिव वरिष्ठ पत्रकार नीरज उपाध्याय ने कहा कि उत्तर प्रदेश के यशस्वी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पत्रकारों के हित और उनके भविष्य को देखते हुए एक महत्वपूर्ण फैसला लिया है जिसका हम सभी स्वागत करते हैं तथा माननीय मुख्यमंत्री जी का आभार प्रकट करते हैं ।
परंतु सरकार के द्वारा दिए गए दिशा निर्देशों में कुछ लोगों ने सेंधमारी करने का कार्य किया है।
बता दें कि अभी तक पेंशन योजना में 10 वर्ष से अधिक समय तक पत्रकारिता के क्षेत्र में कार्य करने वाले श्रमजीवी पत्रकारों को भी पेंशन योजना का लाभ मिलने का प्रावधान बताया गया था, परंतु हाल ही में इस बात की बहुत ही तेजी के साथ चर्चा हो रही है जिसमें यह कहा जा रहा है कि केवल मान्यता प्राप्त पत्रकारों को ही पेंशन योजना का लाभ मिलेगा।
श्रमजीवी पत्रकारों को पेंशन योजना का लाभ नहीं मिलेगा, जो कि किसी भी सूरत में उचित नहीं है, क्योंकि जो श्रमजीवी पत्रकार अपने जीवन के 30/35 वर्ष पत्रकारिता में बिता चुका हो,उसके लिए यह पेंशन किसी वरदान से कम साबित नहीं होगी
आईरा इंटरनेशनल रिपोर्टर्स एसोसिएशन की ओर से सरकार से मांग है कि सभी श्रमजीवी पत्रकारों को उनकी वरीयता एव वरिष्ठता को दृष्टिगत रखते हुए, पेंशन योजना को लागू किया जाए।
वर्तमान समय में पेंशन योजना के परिवर्तित प्रावधानों से हमारा संगठन और सम्पूर्ण श्रमजीवी पत्रकार परिवार संतुष्ट नही है ।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button