Breaking News

रेशम के लिए अब नही भटकना होगा,कशी के बनकारों को अब काशी में ही रेशम उपलब्ध कराएगी कर्नाटक सरकार

वाराणसी ब्यूरो

वाराणसी। सारंग तालाब स्थित मान्यवर कशीराम सिल्क एक्सचेंज सेंटर में कर्नाटक सरकार के सिल्क मार्केटिंग बोर्ड नें रेशम डिपो की शुरुआत की है।जिसके कारण कर्नाटक सिल्क डिपो (सिल्क विक्रय शाखा) बुनकरों के सपनों को नए आयाम देगा। यहां 50 फीसदी सब्सिडी पर बुनकरों को कर्नाटक सिल्क का गुणवत्तापूर्ण धागा मिलेगा। प्रदेश के लघु उद्योग मंत्री राकेश सचान और कर्नाटक के रेशम उत्पादन व खेल मंत्री डॉ. नारायण गौड़ा ने इस डिपो का उद्घाटन किया। की ओर से यह डिपो खोला गया है।

प्रदेश के काबीना मंत्री राकेश सचान ने कहा कि राज्य सरकार और कर्नाटक सरकार के बीच हुए एमओयू के तहत यह पहल हुई है। यह डिपो बनारसी साड़ी उद्योग के विकास में मील का पत्थर साबित होगा। यहां से बुनकरों को कम कीमत पर असली धागे मिलेंगे। धागों की बिक्री में बिचौलियों की भूमिका खत्म होगी। उन्होंने कहा कि किसानों को प्रशिक्षण के लिए कर्नाटक भेजने की व्यवस्था की जाएगी ताकि वे आधुनिक विधियां सीखकर रेशम उत्पादन बढ़ा सकें।


आपको बताते चलें कि कर्नाटक के मंत्री डॉ. नारायण गौड़ा ने कहा कि सिल्क उत्पादन में कर्नाटक देश में पहले नम्बर पर है। डिपो से बुनकरों को सस्ते दर पर रेशम धागा उपलब्ध कराया जायेगा। उन्होंने कहा कि डुप्लीकेट रेशम धागों को ओरिजिनल कह कर बुनकरों को देना गलत है। नकली-असली धागों की पहचान करनी होगी। इस समस्या को दूर करने में सिल्क डिपो काफी हद तक कारगर साबित होगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button